Brahmacharya™ (ब्रह्मचर्य) Celibacy

टेलीग्राम चैनल का लोगो brahmacharya — Brahmacharya™ (ब्रह्मचर्य) Celibacy
चैनल से विषय:
Inner
Note
Digital
Hindi
Motivational
Hindi
Motivational
Motivation
Flashback
Inner
All tags
टेलीग्राम चैनल का लोगो brahmacharya — Brahmacharya™ (ब्रह्मचर्य) Celibacy
चैनल से विषय:
Inner
Note
Digital
Hindi
Motivational
Hindi
Motivational
Motivation
Flashback
Inner
All tags
चैनल का पता: @brahmacharya
श्रेणियाँ: मनोविज्ञान , गूढ़ विद्या
भाषा: हिंदी
ग्राहकों: 30.82K
चैनल से विवरण

Brahmacharya ,The Vital Power
ब्रह्मचर्य पालन के लिए इस दुनिया का सर्वश्रेष्ठ और सबसे बड़ा चैनल

#Celibacy
#ब्रह्मचर्य
#meditation
#yoga
#Brahmacharya
#health
#Motivation
#LifeStyle

Ratings & Reviews

3.50

2 reviews

Reviews can be left only by registered users. All reviews are moderated by admins.

5 stars

1

4 stars

0

3 stars

0

2 stars

1

1 stars

0


नवीनतम संदेश

2022-12-06 01:34:02 खुद को busy रखो । पता नही इतना समय कहाँ मिल जाता है व्यर्थ के लिए।

आपके इस जीवन का हर एक सेकंड बहुत ही ज्यादा कीमती है ।

समय को बर्बाद मत करो ,नही तो वो तुम्हे बर्बाद कर देगा।
1.6K views22:34
ओपन / कमेंट
2022-12-05 03:50:47 The Poem
मैंने तो अब चलना सीख लिया



मैंने खुद से मिलना सीख लिया
प्यार भरी  बाते करना शुरू किया
यही तो प्रमाण है
की मैंने तो अब चलना सीख लिया..

चोट खाकर दुःख तो
अब भी होता है
तमाशा करने के लिये
दिल अब न रोता है
मैंने आंसू पीना सीख लिया
हां यही सच है
मैंने तो अब चलना सीख लिया..


लक्ष्य से भटकने का
मलाल तो होता है
मायूस होता है दिल
ये हाल भी होता है
पर खुद की तकलीफें सहना
सीख लिया
हा यह सच है
मैने तो अब चलना सीख लिया..

निराशा आती तो है
पर उसे रुकना होता है
आशा के सूरज को
फिर उगना होता है...

कुछ ऐसे ही अल्फाज़ो में
दर्द को दवा बनाना सीख लिया
हा ये सच है,
मैंने तो अब चलना सीख लिया..


ज़िद्दी हूँ न ,ज़िद पवित्रता की
कैसे छोड़ सकता हूँ
दलदल में भी कमल का सपना
कैसे तोड़ सकता हूँ
पर थोड़ा धीरज रखना भी
सीख लिया
हा बाबा अब
मैंने तो चलना सीख लिया...


नही अब गिरकर हताश होता हूँ,,
उठकर फिर नया प्रयास करता हूँ
अब डर को हराना सीख लिया
यही तो सच है
मैंने तो अब चलना सीख लिया..


रूठता हूँ मगर न नाराज़ होता हूँ,
करता हूँ बादे और खुद का
हमराज़ होता हूँ
अब मैंने खुदसे नज़रे मिलाना
सीख लिया
हा यही  सच है
मैंने तो अब चलना सीख लिया...



जीतूंगा पूरी दुनिया को
यही आस रखता हूँ
मानव हूँ न हर मानव से
प्यार करता हूँ

अब  गलती पे अपनी
झुकना सीख लिया
हा यह सच है
मैंने तो अब चलना सीख लिया..


असमंजस जब भी है
कथनी और करनी में
पर कमी नही विश्वास की
ज्वाला और अग्नि में
चाहे जो हो
मुस्कुराना सीख लिया
हा बाबा मैंने  तो
अब चलना सीख लिया
अब चलना सीख लिया

        धन्यवाद



शिक्षा :-जीवन मे असफलताओं से घबराइये नही। जब जीवन मे आपके अनुकूल माहौल न हो। तब हिम्मत मत हारिए...

चाहे स्थिति जो हो खुद पर से विश्वास मत छोड़िए। आप सूरज की तरह स्थिर रहिए, समस्या रूपी काले बादलों को हटना ही होगा...

Positivity  की chain बनाये रखने के लिये
ओनली ONE शेयर Nothing More...


          
             
137 views00:50
ओपन / कमेंट
2022-12-05 03:45:33
165 views00:45
ओपन / कमेंट
2022-12-04 17:20:18
क्या आपके विचार आपके कंट्रोल में है ?
Anonymous Poll
47%
हां
53%
नही
392 voters725 views14:20
ओपन / कमेंट
2022-12-04 13:36:40


इस चैनल पर हर दिन आप महान बन रहे हो !

दोस्तो, आप इस चैनल का लिंक (t.me/brahmacharya ) ज्यादा से ज्यादा युवाओ के साथ शेयर करे । जिससे उनका भविष्य भी उज्जवल बन सके।ये आपके द्वारा की गई उनकी सच्ची सहायता होगी।

Films ki ,jokes की ,वीडियोस की लिंक हम काफी शेयर करते है। ऐसी जीवन को नई दिशा देने वाली लिंक जरूर शेयर करे। अगर आप एक भी भटके युवा को सही रास्ते पर ले आये तो वो पूरी जिंदगी आपको दुआ देगा।

साथ मे जो QR कोड दिया है उसको स्कैन करके भी आप डायरेक्ट इस ग्रुप में जुड़ सकते है । जिनको जोड़ना चाहते हो उनसे ये स्कैन करने को कहे , स्कैन करते ही लिंक आ जायेगा

ये है लिंक

https://t.me/+f5EdL6YqkmZlYTM1
1.9K viewsedited  10:36
ओपन / कमेंट
2022-12-04 07:50:03
How to Stop Nightfall Permanently (Works 100%)
2.8K views04:50
ओपन / कमेंट
2022-12-03 16:28:27 स्वस्थ जीवन के 10 सुनहरे नियम
1.8K views13:28
ओपन / कमेंट
2022-12-03 16:28:27
1.8K views13:28
ओपन / कमेंट
2022-12-01 08:47:35
अगर आप पढ़ाई कर रहे है तो ये बात ध्यान रखना

"केवल पढ़ाई पर ही ध्यान हो सिर्फ, बाकी कुछ भी जरूरी नही इस समय "

सब कुछ मिल जायेगा लेकिन ये कीमती वक्त लौटकर नही आएगा।
3.2K views05:47
ओपन / कमेंट
2022-11-30 07:48:36 हल्के विचार,गंदी आदतें नीचे की तरफ ले जाते है.....!!

आप बुवाई करो  

सभी के अंदर यह जो श्वासोश्वास चलता है न, उसमें प्राणशक्ति और अपानशक्ति काम करती है। जब हम ऊँचे भाव करते हैं तो हमारी यात्रा ऊँची होती है। तो....आप बुवाई करो। 

क्या बोयें ?

विचार बोओगे तो कर्म बनेगा,कर्म बोओगे तो आदत बनेगी, आदत बोओगे तो चरित्र बनेगा और चरित्र बोओगे तो महाराज बनने-बिगड़ने से पार जो परमात्म-तत्व है उसमें विश्रांति मिल जाएगी।

      फिर कुछ बनोगे नहीं,जो तुम्हारा मूल है वहाँ पहुँच जाओगे। आप बीज बोते हैं ना तो बीज की प्राणशक्ति पौधे के ऊपर वाले भाग पत्ते-टहनियों तथा अपानशक्ति जड़ों के रूप में व्यापक हो जाती है ।

      ऐसे ही आप हृदय में रहते हैं ; अगर हल्के विचार करते हैं तो काम,क्रोध,स्वप्नदोष गंदी आदतों के शिकार होकर नीचे की तरफ जाते हैं और अगर सत्संग करते हैं और ऊँचे विचार करते हैं तो आप ऊँचे होते-होते.... नरेंद्र में से विवेकानंद बन जाते हैं कबीर जुलाहे में से संत कबीरजी बन जाते हैं शबरी भीलन में से महान शबरी बाई बन जाती है।

Join
https://t.me/+RCBOO24o4PS1h2mj
195 views04:48
ओपन / कमेंट